स्वरा भास्कर और रवीना टंडन होंगी सिंटा कमिटी की सदस्य

मुम्बई। मी टू से बॉलिवुड में आई आंधी के बाद सिने एंड टीवी आर्टिस्ट असोसिएशन (सिंटा) एक अहम कदम उठाने जा रहा है। बॉलिवुड में यौन उत्पीड़न के मामलों से निपटने के लिए सिंटा जल्द ही एक कमिटी का गठन करेगा। ऐक्ट्रेस स्वरा भास्करऔर रवीना टंडन इस कमिटी के सदस्यों में शामिल होंगी। सिंटा के महासचिव सुशांत सिंह का कहना है कि फिल्म इंडस्ट्री में ऐसे मामलों से निपटने के लिए कई लोगों से बातचीत चल रही है। जल्द ही एक कमिटी का गठन हो सकता है। ऐक्ट्रेस रेनुका शाहणे, फिल्ममेकर अमोल गुप्ते और जर्नलिस्ट भारती दुबे, पोश के वकील और साइकॉलजिस्ट भी इस कमिटी का हिस्सा होंगे। सुशांत सिंह ने बताया, ‘स्वरा भास्कर ने इस बारे में हमसे बात की। वह इस कमिटी की मेंबर होंगी। वह काफी समय से ऐसे मामलों से निपटने के लिए अपने तरीकों से काम कर रही हैं। जब उन्होंने हमसे इस बारे में चर्चा की तो मुझे समझ आया है कि हम लोग एक ही लक्ष्य के लिए काम कर रहे हैं। हम ऐसी कमिटी बनाने के बारे में सोच रहे हैं जो यौन हिंसा को लेकर लोगों को जागरूक कर सके। स्वरा के अलावा इसमें वकील वृंदा ग्रोवर भी होंगी। पोश से जुड़े लोग मिलकर लोगों की काउंसिलिंग कर सकेंगे। लोगों को जागरूक करने के लिए वर्कशॉप होंगी।’ उनका कहना है कि हमारी संस्था का उद्देश्य एक ऐसी कमिटी तैयार करना है जो लोगों में यह भय पैदा कर सके कि महिलाओं से दुर्व्यवहार करने पर उन्हें कड़ी सजा हो सकती है। जिन आरोपियों के खिलाफ मामले सिद्ध हो चुके हैं उनके साथ कोई भी काम न करे। यह उनके लिए सजा होगी। उन्होंने जो किया है उसके लिए उन्हें सजा मिलनी जरूरी है। एक ट्रेड यूनियन के तौर पर हमारा यह फर्ज बनता है कि हम ऐसे लोगों को इंडस्ट्री में न रहने दें। कमिटी के पास इतनी ताकत होगी कि वह ऐसे लोगों को काम मिलने से रोक सके जिन पर यौन शोषण के मामले सिद्ध हो चुके हों।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top