97 Views

15 बड़े मैचों में की गई थी स्पॉट फिक्सिंग

मुंबई। आईसीसी के रेडार पर आए एक कथित मैच फिक्सर का दावा है कि वह 15 बड़े क्रिकेट मुकाबलों में 26 मौकों पर मैच फिक्सिंग में शामिल रहा। अल जजीरा द्वारा रविवार को जारी एक इनवेस्टिगेटिव डॉक्यूमेंट्री में दावा किया जा रहा है कि अनील मुनव्वर नाम के एक आरोपी ने 6 टेस्ट, 6 वनडे इंटरनैशनल और 3 वर्ल्ड टी20 मैचों में फिक्सिंग की जिसमें 2011 में लॉर्ड्स में खेला गया भारत-इंग्लैंड टेस्ट मैच भी शामिल है।  ‘क्रिकेट मैच फिक्सर्स: द मुनव्वर फाइल्स’ के शीर्षक से रिलीज इस डॉक्यूमेंट्री में दावा किया गया है कि इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने 7 मैचों में, ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों ने 5 मैचों में, पाकिस्तान के क्रिकेटरों ने 3 मैचों में और 1 अन्य देश के क्रिकेटर ने फिक्सिंग की। इनमें भारत-इंग्लैंड के बीच लॉर्ड्स में खेला गया टेस्ट मैच, साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच 2011 में ही केप टाउन मं खेला टेस्ट मैच शामिल है।

इसके अलावा 2011 वर्ल्ड कप के 5 मैचों में और 2012 वर्ल्ड टी20 के 3 मैचों में भी फिक्सिंग का दावा किया गया है। साथ ही यह भी दावा है कि इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच 2012 में खेले गए तीनों टेस्ट मैचों में फिक्सिंग की गई। अल जजीरा को कई ऐसी फाइल मिली हैं जिसमें मुनव्वर की कॉल रिकॉर्डिंग शामिल है जिसमें उसने दिनेश खंबत को फोन किया। खंबत दिनेश कलगी का साथी रहा जिसकी साल 2014 में मौत हो गई थी। डॉक्यूमेंट्री में दिखाया गया है कि मुनव्वर में इंग्लैंड के एक प्लेयर को 2011 में कॉल किया और कहा- एशेज के लिए मुबारक हो। आपके अकाउंट में बकाया रकम एक सप्ताह में पहुंच जाएगी। इसके जवाब में प्लेयर कहता है- शानदार। हालांकि जब इस क्रिकेटर (जिसका नाम नहीं बताया गया) से पूछा गया तो उन्होंने साफ तौर पर इनकार किया और इस ऑडियो को ‘झूठा’ करार दिया।  इसमें उमर अकमल को ‘डी कंपनी’ के एक सदस्य से होटेल लॉबी में मुलाकात करते तस्वीरें दिखाई गई हैं जो दुबई में पाकिस्तान-इंग्लैंड टेस्ट से पहले की बात है। बता दें कि इस साल जून में अकमल को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की ऐंटी करप्शन यूनिट ने समन भेजा था जब उन्होंने कहा कि 2015 वर्ल्ड कप और हॉन्ग कॉन्ग सुपर सीरीज के दौरान मैच फिक्सरों ने उन्हें जाल में फंसाने का प्रयास किया था।

आईसीसी की ऐंटी करप्शन यूनिट के जनरल मैनेजर एलेक्स मार्शल ने कहा कि क्रिकेट की यह वैश्विक संस्था मामले की पूरी जांच करेगी। उन्होंने कहा, ‘हम इस डॉक्यूमेंट्री के कॉन्टेंट को फिर से देखेंगे और हर तरह के आरोपों की जांच की जाएगी। हमारे पास खेल से भ्रष्टाचार को दूर करने के लिए पहले से काफी ज्यादा संसाधन हैं।’

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top