पाकिस्तान आर्मी चीफ को गले लगाने पर बोले नवजोत सिंह सिद्धू- शांति चाहते हैं जनरल बाजवा साहब

इस्लामाबाद। इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए पाकिस्तान गए कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि मैं एक मोहब्बत का पैगाम हिंदुस्तान से लाया था। जितनी मोहब्बत मैं लेकर आया था, उससे 100 गुना ज्यादा मोहब्बत मैं वापस लेकर जा रहा हूं। जो वापस आया है, वो सूद समेत आया है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि मैं वापस जाकर सरकारों से बात करने के लिए कहूंगा। उन्होंने कहा कि यह मेरा कर्तव्य है कि मैं वापस जाकर हमारी सरकार से एक कदम आगे बढ़ने के लिए कहूं और मुझे उम्मीद है कि अगर हम एक कदम आगे बढ़ेंगे, तो यहां के लोग दो कदम आगे बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि जनरल बाजवा साहब ने मुझे गले लगाया और कहा, ‘हम शांति चाहते हैं।’ चलो एक नीले सागर में तैरते हैं और लाल सागर को छोड़ते हैं। यह मेरा सपना है।
सिद्धू ने कहा, ‘आज सुबह जनरल बाजवा मेरे पास आए और कहा कि हम गुरु नानक देव की 550वीं जयंती समारोह पर करतारपुर मार्ग खोलने की सोच रहे है।’ सिद्धू ने आशा जताई कि उनके मित्र इमरान खान का पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनना पाकिस्तान-भारत शांति प्रक्रिया के लिए बेहतर साबित होगा। समारोह में सिद्धू पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा से गले मिले और दोनों ने संक्षिप्त बातचीत की। बातचीत करने के बाद दोनों फिर से गले मिले। पंजाब की कांग्रेस सरकार में मंत्री, सिद्धू ने कहा, ‘नई सरकार के साथ पाकिस्तान में नया सबेरा जो देश की तकदीर बदल सकता है।’

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top