105 Views

एशियाड ऐथलेटिक्स में अनस, हिमा और दुती ने जीते सिल्वर, गोविंदन का ब्रॉन्ज मेडल छिना

जकार्ता भारतीय ऐथलीटों ने इंडोनेशिया में खेले जा रहे 18वें एशियन गेम्स में शानदार प्रदर्शन करते हुए रविवार को 3 सिल्वर मेडल जीत लिए। मोहम्मद अनस और हिमा दास ने 400 मीटर फाइनल में अपनी-अपनी स्पर्धा में सिल्वर जीता, तो वहीं फर्राटा धाविका दुती चंद ने 100 मीटर फाइनल में सिल्वर अपने नाम किया। हालांकि 10000 मीटर में गोविंदन लक्ष्मणन की खुशी ज्यादा लंबे समय तक कायम नहीं रह पाई और उन्हें दिया गया ब्रॉन्ज मेडल वापस ले लिया गया। उन्हें बाद में डिस्क्वॉलिफाइ करार दिया गया। भारत की फर्राटा धाविका हिमा दास ने रविवार को 18वें एशियाई खेलों में कमाल कर दिया। महिलाओं की 400 मीटर तेज दौड़ में उन्होंने सिल्वर मेडल देश के नाम किया। इस युवा ऐथलीट ने 50.79 सेकंड का समय लिया और अपना ही नैशनल रेकॉर्ड तोड़ा। बहरीन की सलवा नासेर ने 50.09 सेकंड के वक्त के साथ गोल्ड मेडल जीता। मनजीत कौर ने 2006 के दोहा एशियाई खेलों में महिलाओं की 400 मीटर दौड़ में सिल्वर मेडल जीता था। उसके बाद पहली बार किसी भारतीय महिला ऐथलीट ने इस इवेंट में कोई तमगा हासिल किया है। हिमा ने शनिवार को फाइनल के लिए 51 सेकंड के नैशनल रेकॉर्ड टाइम के साथ क्वॉलिफाइ किया था। उन्होंने चेन्नै में 2004 में मनजीत कौर के 51.05 सेकंड के नैशनल रेकॉर्ड को तोड़ा था। नासेर, का जन्म नाइजीरिया में हुआ है, उन्होंने 2017 में वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी सिल्वर जीता था। इसी दौड़ में एक और भारतीय महिला धावक निर्मला शेरॉन ने भी हिस्सा लिया जिन्होंने 52.96 सेकंड के समय के साथ चौथा स्थान हासिल किया।

वहीं पुरुषों के 400 मीटर फाइनल में मोहम्मद अनस ने भी सिल्वर मेडल जीता। उन्होंने 45.69 सेकंड का वक्त निकाला। गोल्ड मेडल जीतने वाले कतर के हासेन अब्दुला ने 44.89 के समय के साथ गोल्ड मेडल जीता। देश की स्टार फर्राटा धाविका दुती चंद ने 100 मीटर फाइनल में सिल्वर अपने नाम किया। उन्होंने 11.32 सेकंड का समय लेते हुए सिल्वर जीता। मुकाबला बेहद कड़ा रहा और बहरीन ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए 11.30 का समय लिया और गोल्ड जीता। ब्रॉन्ज मेडल चीन की वेइ योंगली (11.33 सेकंड) के नाम रहा। गोविंदन के लिए बुरी खबर रही कि पुरुषों की 10000 मीटर दौड़ में तीसरे स्थान पर रहने के बाद उन्हें डिस्क्वॉलिफाइ कर दिया गया। उन्हें ब्रॉन्ज मेडल दिया गया लेकिन रीप्ले चेक करने के बाद अधिकारियों ने पाया कि कुछ समय के लिए उनके पैर सर्किट (जिस पर दौड़ा जाता है) से बाहर चले गए थे। इसी वजह से वह डिस्क्वॉलिफाइ हो गए। उन्होंने यह दौड़ 29 मिनट 44.91 सेकंड में पूरी की थी। बहरीन के हसन चानी ने 28 मिनट और 35.54 सेकेंड का समय लेकर इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक अपने नाम किया है। चानी के हमवतन अब्राहम चेरोबन ने 29 मिनट और 00.29 सेकेंड में स्पर्धा पूरी कर रजत पदक अपने नाम किया। इस बीच श्रीशंकर पुरुषों की लंबी कूद में पदक से चूक गए और छठे नंबर पर रहे। भारत के एशियन गेम्स में अब 36 मेडल हो गए हैं। भारत ने 7 गोल्ड, 10 सिल्वर और 19 ब्रॉन्ज मेडल अभी तक जीते हैं। एथलेटिक्स में कुल 4 मेडल अभी तक भारत के खाते में आए हैं। तजिंदरपाल सिंह ने पुरुष शॉटपुट में गोल्ड जीता, अनस और हिमा ने 400 मीटर फाइनल में सिल्वर मेडल देश को दिलाया जबकि दुती चंद ने 100 मीटर का रजत अपने नाम किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top