आतंक के मामले में सीरिया से तीन गुना ज्यादा खतरनाक पाकिस्तान

लंदन। दुनिया और मानवता को आतंकवाद से मिल रही चुनौतियों की बात करें तो पाकिस्तान सीरिया से तीन गुना ज्यादा खतरनाक पाया गया है। ऑक्सफर्ड यूनिवर्सिटी ऐंड स्ट्रैटिजिक फोरसाइट ग्रुप (एसएफजी) की हालिया स्टडी में यह बात सामने आई है। एएनआई के रिपोर्ट के मुताबिक विश्लेषकों ने आतंकी कैंपों और उनके सुरक्षित पनाहगार वाले देशों की सूची में पाकिस्तान को शीर्ष पर रखा है।
इस स्टडी में यह भी सामने आया है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए अफगान तालिबान और लश्कर-ए-तैयबा आतंकी संगठन सबसे अधिक खतरनाक हैं। इन आतंकी संगठनों की पाकिस्तान में भी महत्वपूर्ण मौजूदगी है। ह्ययूमैनिटी ऐट रिस्क- ग्लोब टेरर थ्रेट इंडिकैंट नाम की इस स्टडी के मुताबिक पाकिस्तान वैश्विक आतंकवाद को पैदा करने और उसका समर्थन करने वालों में सबसे आगे है। इस लिहाज से पाकिस्तान की आतंकी गतिविधियां सीरिया की तुलना में मानवता के लिए तीन गुना अधिक खतरनाक माना गया है। आपको बता दें कि सीरिया में इस्लामिक स्टेट आतंकियों की मौजूदगी वैश्विक समुदाय के लिए एक बड़े खतरे के रूप में समझी जाती है। रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर हम सबसे खतरनाक आतंकी संगठनों को देखें तो आंकड़ों के आधार पर हम पाते हैं कि इनमें से अधिकतर या तो पाकिस्तान में हैं या पाकिस्तान उनकी मदद करता है।
रिपोर्ट के मुताबिक अफगानिस्तान में भी आतंकी संगठनों की मौजूदगी है जिन्हें पाकिस्तान का समर्थन मिला हुआ है। एसएफजी ने 21वीं सदी के पहले दशक में सक्रिय करीब 200 आतंकी समूहों का विश्लेषण किया। एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक इन समूहों में इस्लामिक स्टेट नाम के संगठन ने पिछले पांच सालों के दौरान सबसे अधिक सुर्खियां बटोरीं। इस रिपोर्ट में पाकिस्तान, अफगानिस्तान, लीबिया, सीरिया और यमन जैसे देशों से ऑपरेट हो रहे वैश्विक आतंकी समूहों की सूचना जुटाई गई है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top