52 Views

राम मंदिर का सपना पूरा होते ही भावुक हुईं उमा भारती और साध्वी ऋतंभरा, आंखों में आए आंसू

अयोध्या। अयोध्या में ५०० साल का रामभक्तों का इंतजार सोमवार को खत्म हो गया। श्री राम लला की प्राण प्रतिष्ठा जैसे ही संपन्न हुई, सब ओर श्री राम नाम के उद्घोष गूंजने लगे।
मंदिर के गर्भगृह में मोदी पहुंचे और उन्होंने प्राण-प्रतिष्ठा पूजा के लिए संकल्प लिया। फिर पूजा शुरू की। पीएम ने ही रामलला की आंख से पट्टी खोली और कमल का फूल लेकर पूजन किया। रामलला पीतांबर से सुशोभित हैं। उन्होंने हाथों में धनुष-बाण धारण किया है।
राम मंदिर आंदोलन के प्रमुख चेहरों में शुमार रहीं साध्वी ऋतंभरा और उमा भारती भी भव्य राम मंदिर को अपनी आंखों के सामने साकार होते देख अपने आंसू नहीं रोक पाई और दोनों नेत्री गले लगकर खूब रोईं। दोनों की तस्वीरें सामने आईं हैं। राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा हो गई है और रामलला के दिव्य और आलौकिक दर्शन हो गए हैं। राम मंदिर के इस महोत्सव में १,१०० से अधिक गणमान्य लोग अयोध्या पहुंचे।
सुबह ८ बजे से ही मेहमानों का मंदिर परिसर में आगमन शुरू हो गया। सभी मेहमानों को जन्मभूमि पथ होते हुए मंदिर परिसर में प्रवेश दिलाया गया। उन्हें रामनामी पटका पहनाया गया। इसके बाद निर्धारित स्थान पर बैठाया गया। मेहमानों में सांसद हेमा मालिनी, रजनीकांत, कंगना रनौत, चिरंजीवी, उनके पुत्र रामचरन, सचिन तेंदुलकर, अमिताभ बच्चन, साइना नेहवाल, कट्रीना कैफ, विक्की कौशल, आलिया भट्ट, रणबीर कपूर, जैकी श्राफ, देवकीनंदन ठाकुर,रणदीप हुड्डा समेत अलग-अलग क्षेत्रों के विशिष्ट अतिथि ऐतिहासिक कार्यक्रम स्थल में पहुंचे। इस बीच, सोनू निगम, अनुराधा पौडवाल और शंकर महादेवन ने अपनी प्रस्तुति भी दी।

Scroll to Top