125 Views

नशे की गिरफ्त में स्कूली बच्चे, अभिभावकों को चेतावनी

टोरंटो,०८ नवंबर। (सतपाल सिंह जोहल) ब्रैम्पटन के स्कूली बच्चों के बीच नशा अपनी जड़े जमा रहा है। स्कूल में पानी की बोतलों में शराब लाने वाले बच्चों के बारे में अभिभावकों को सचेत किया जा रहा है। यह चेतावनी उन कई घटनाओं के बाद आई है जिनमें बच्चे स्कूल में शराब के साथ पाए गए हैं। कुछ मामलों में, शराब को पानी की बोतलों में छिपाया गया है।
यह जानना भी महत्वपूर्ण है कि बच्चे बिगड़ैल बच्चों या वयस्कों से वेप्स और ड्रग्स खरीद सकते हैं। इससे लत और अन्य स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।
अपने बच्चों के सेल फोन और इंटरनेट गतिविधि पर नज़र रखना भी महत्वपूर्ण है। इससे उन्हें अनुचित सामग्री तक पहुँचने या खतरनाक लोगों के साथ संपर्क करने से रोकने में मदद मिल सकती है। अपने बच्चों को नकद या बैंक कार्ड देने के बजाय घर से दोपहर के भोजन के साथ स्कूल भेजना भी एक अच्छा विचार है। इससे उन्हें अस्वास्थ्यकर भोजन खरीदने या दवाओं या शराब पर पैसा खर्च करने से रोकने में मदद मिलेगी।
स्कूल झगड़े और नशीली दवाओं के उपयोग जैसी समस्याओं को कम करने के लिए कदम उठा रहे हैं। उदाहरण के लिए, ब्रैम्पटन के वार्ड १० में एक माध्यमिक विद्यालय ने शौचालयों में सेंसर लगाए हैं। ये सेंसर स्कूल के शौचालयों के अंदर होने वाली घटनाओं पर अंकुश लगाने और उन्हें नियंत्रित करने में मदद करेंगे। वार्ड ९ और वार्ड १० के सभी माध्यमिक विद्यालयों के शौचालयों में सेंसर लगाने की भी योजना है।
इन समस्याओं के समाधान के लिए माता-पिता के लिए स्कूलों के साथ मिलकर काम करना महत्वपूर्ण कदम है। अपने बच्चों को स्कूल में शराब या नशीली दवाएं लाने से रोकने के लिए कदम उठाकर, माता-पिता अपने बच्चों को सुरक्षित और स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं।

Scroll to Top