61 Views

किंग चार्ल्स की हुई ताजपोशी, क्वीन कैमिला ने नहीं पहना कोहिनूर से जड़ा मुकुट

लंदन ०८ मई। किंग चार्ल्स तृतीय का ऐतिहासिक राज्याभिषेक हो गया है। वे अपनी पत्नी और क्वीन कैमिला के साथ वेस्टमिंस्टर एबे पहुंचे। यहां एक धार्मिक समारोह में यूनाइटेड किंगडम के राजा का ताज पहनाया गया। ये परंपरा लगभग एक हजार साल पुरानी है। समारोह में किंग चार्ल्स तृतीय (७४ साल) की पत्नी कैमिला भी आधिकारिक रूप से ‘क्वीन कंसोर्ट’ से ‘क्वीन’ बन गईं। कैंटरबरी के आर्कबिशप ने राजा को ३६० साल पुराना ताज पहनाया है।
राज्याभिषेक में देश-विदेश के २ हजार मेहमानों को बुलाया गया है। भारत के उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ भी अपनी पत्नी डॉ. सुदेश धनखड़ के साथ लंदन पहुंचे। यहां उपराष्ट्रपति का बकिंघम पैलेस में आयोजित एक समारोह में स्वागत किया गया। इसके साथ ही उन्होंने लंदन में होने वाले राज्याभिषेक समारोह से पहले किंग चार्ल्स तृतीय से मुलाकात भी की है। इस मुलाकात को लेकर उपराष्ट्रपति के ट्विटर हैंडिल से जानकारी शेयर की गई है। किंग ने ब्रिटेन के लोगों पर ‘न्याय और दया’ के साथ शासन करने और एक ऐसे वातावरण को बढ़ावा देने की शपथ ली, जहां सभी धर्मों और विश्वासों के लोग स्वतंत्र रूप से रह सकें। प्रिंस विलियम, कैथरीन व ड्यूक ऑफ ससेक्स प्रिंस हैरी वेस्टमिंस्टर एब्बे में किंग चार्ल्स के राज्याभिषेक समारोह में भाग ले रहे हैं।
किंग ने कौन सा ताज पहना?
ये १७वीं सदी का सेंट एडवर्ड क्राउन है, जो सॉलिड गोल्ड से बना हुआ है. लगभग ढाई किलो वजन का ये मुकुट आम मौकों नहीं, सिर्फ राज्याभिषेक के दौरान पहना जाता है, जो कि प्रतीकात्मक होता है। इसके बाद इसे सहेजकर रख दिया जाता है। एडिनबर्ग, कार्डिफ और बेलफास्ट समेत पूरे ब्रिटेन में १३ जगहों पर तोपों की सलामी दी गई। किंग चार्ल्स थ्री की ताजपोशी के रूप में रॉयल नेवी के जहाजों को तैनात किया गया है।

Scroll to Top