119 Views

हिंदू से ईसाई धर्म में परिवर्तन कराने का आरोप, 4 के खिलाफ तहरीर

पीलीभीत। यूपी के पीलीभीत जिले में गरीब तबके के लोगों को बहलाफुसला कर धर्म परिवर्तन कराने का मामला सामने आया है। दरअसल शुक्रवार को जिले के एक गांव के एक घर में धर्म परिवर्तन को प्रेरित करने के लिये सत्संग चल रहा था। इस बारे में सूचना पाकर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर चार लोगों को हिरासत में ले लिया, जिनसे पूछताछ की जा रही है।  पीलीभीत जिले के बरखेड़ा थाना क्षेत्र के गांव मधुपुरी में शुक्रवार को कुछ ग्रामीणों ने धर्म परिवर्तन को प्रेरित करने की सूचना हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं को दी। सूचना पाकर हिंदू युवा वाहिनी ने बरखेड़ा पुलिस को मामले से अवगत कराया। पुलिस जब मामले की छानबीन के लिये गांव पहुंची, जहां गांव की अनीता के घर में ईसाई धर्मसे संबंधित सत्संग चल रहा था। इसमें काफी लोग मौजूद थे। पुलिस ने पूछताछ के बाद चार लोगों को मौके से हिरासत में ले लिया। इसमें दो महिला और दो पुरुष हैं।  गांव की कुछ महिलाएं एकत्र होकर बरखेड़ा थाने पहुंचीं, जहां उन्होंने बताया कि उन लोगों ने धर्म परिवर्तन नहीं किया है। सत्संग की बात पर उनका कहना था कि ईसाई धर्म के सत्संग से उनका काफी फायदा हुआ है। सत्संग के सुनने से उनके काफी दुख दर्द दूर हुए हैं। इसलिए सत्संग सुनते हैं। पुलिस ने जिनको हिरासत में लिया है, वह उनके गुरु हैं जो सत्संग सुनाते हैं।  बरखेड़ा थानाध्यक्ष राजकुमार भारद्धज ने मामले में जानकारी देते हुए बताया कि हिंदू युवा वाहिनी की ओर से सूचना मिली थी कि मधुपुरी गांव में हिन्दु को ईसाई बनाकर धर्म परिवर्तन किया जा रहा है। इस बारे में हिंदू युवा वाहिनी की तरफ से लिखित तहरीर दी गई। इस मामले की जांच के लिए गांव पहुंचकर वहां के लोगों से पूछताछ की तो किसी ने भी धर्म परिवर्तन से संबंधित कोई बात नहीं बताई। जांच में धर्म परिवर्तन की बात पूरी तरह गलत है। फिलहाल हिरासत में लिए गए चारों आरोपितों पर धारा 151केतहतमामलादर्जकरपूछताछकीजारहीहै।

वहीं हिंदू युवा वाहिनी के बरखेड़ा ब्लॉक अध्यक्ष मनोज ने बताया कि ग्रामीणों से मिली सूचना के मुताबिक महीने की हर 12 तारीख को सत्संग आयोजित किया जाता है, जिसमें गरीब तबके के सीधे साधे ग्रामीणों को लालच देकर धर्म परिवर्तन के जाल में फंसाया जाता है। इस गांव में यह खेल करीब चार से पांच महीनों से चल रहा है। इस खेल का मुखिया कोई और है

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top