उत्तर भारतीयों के पलायन की खबरों के बीच पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द

अहमदाबाद गुजरात के हिम्मतनगर में नाबालिग से रेप के बाद आ रही हिंसा की खबरों के बीच पुलिस सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर रही है। पुलिस महानिदेशक शिवानंज झा ने बताया कि अब तक हिंसा के मामलों में कुल 342 लोगों को हिरासत में लिया गया है और पुलिस की संख्या बढ़ाई जा रही है। साथ ही राज्यभर के पुलिसकर्मियों की छुट्टी अनिश्चितकाल के लिए रद्द कर दी गई हैं। डीजीपी शिवानंद ने कहा, ‘गैर-गुजराती लोगों पर हमला करने के मामले में अबतक 342 लोगों को हिरासत में लिया गया है। राज्यभर के सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टियां अनिश्चितकाल के लिए रद्द कर दी गई हैं। सुरक्षाबलों की 17 कंपनियों को तैनात किया गया है।’

बताते चलें कि 14 वर्षीय बच्ची से रेप के बाद गुजरात में उत्तर भारतीयों खासकर उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों को शिकार बनाया जा रहा है। इस हिंसा के चलते हजारों की संख्या में उत्तर भारतीय गुजरात छोड़कर अपने-अपने घर की ओर लौट रहे हैं। इस मामले में हमला करने वाले लोगों में ज्यादातर ठाकोर समुदाय का नाम सामने आ रहा है। ठाकोर समुदाय पर हिंसा करने का आरोप लगने के बाद कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर ने आरोपों को गलत बताते हुए कहा है, ‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है, हमने कभी हिंसा की वकालत नहीं की और हमेशा शांति की बात नहीं की है। सभी भारतीय गुजरात में सुरक्षित हैं।’

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top