शाहबाज शरीफ को अदालत ने 10 दिनों की एनएबी रिमांड में भेजा

October 6, 2018

लाहौर पाकिस्तान की एक भ्रष्टाचार-रोधी अदालत ने शनिवार को विपक्ष के नेता शाहबाज शरीफ (67) को 10 दिनों की रिमांड पर नैशनल अकाउंटैबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) को सौंप दिया। पीएमएल-एन के अध्यक्ष शरीफ को एनएबी ने 1,400 करोड़ रुपये के हाउजिंग स्कैम के मामले में गिरफ्तार किया गया है। एनएबी ने अदालत से शरीफ की 15 दिनों की रिमांड मांगी थी। शाहबाज पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई हैं। इससे पहले पाकिस्तान के राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) के प्रवक्ता नवाजिश अली असीम ने शुक्रवार बताया, ‘शाहबाज शरीफ शुक्रवार को एनएबी, लाहौर के एक जांच दल के समक्ष उपस्थित हुए। आशियाना आवास योजना और पंजाब साफ पानी कंपनी के लिए नियमों का उल्लंघन करते हुए अपनी पसंद की कंपनी को ठेका देने में कथित संलिप्तता के बारे में वह जांचकर्ताओं को संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाए। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।’ उल्लेखनीय है कि इससे पहले एवनफील्ड केस में शाहबाज के बड़े भाई नवाज शरीफ को अकाउंटिबिलिटी कोर्ट ने 10 साल कारावास की सजा सुनाई थी। हालांकि, इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने उनकी सजा पर रोक लगा दी है, जिसके बाद 20 सितंबर को उन्हें रिहा कर दिया गया। नवाज शरीफ परिवार इस वक्त भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरा हुआ है।