68 Views

कर्नाटक बंद: बेंगलुरु में ४४ उड़ानों का आगमन व प्रस्थान रद्द

बेंगलुरु,३० सितंबर। बेंगलुरु अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के अधिकारियों ने ४४ उड़ानों का आगमन और आगमन रद्द कर दिया है। तमिलनाडु को पानी छोड़े जाने के विरोध में कन्नड़ समर्थक संगठनों द्वारा शुक्रवार को बुलाए गए कर्नाटक बंद की पृष्ठभूमि में हवाईअड्डे से उड़ानें बंद हो गईं। सूत्रों ने पुष्टि की कि मेट्रो शहरों नई दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और अन्य गंतव्यों के लिए उड़ानें रद्द कर दी गई हैं। सूत्रों के अनुसार, कार्यकर्ताओं ने इंडिगो ७७३१ उड़ान के लिए टिकट खरीदा था और सुबह ९.५० बजे बेंगलुरु हवाई अड्डे के परिसर में प्रवेश किया। वे उड़ान के पास विरोध प्रदर्शन की योजना बना रहे थे, इसी बीच पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। इस संबंध में पुलिस विभाग की ओर से आधिकारिक बयान आना बाकी हैै। पूर्व मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी ने शुक्रवार को राज्य सरकार से कावेरी के लिए विरोध प्रदर्शन, बंद के दौरान हिरासत में लिए गए या गिरफ्तार किए गए कन्नड़ कार्यकर्ताओं को तुरंत रिहा करने का आग्रह किया। कुमारस्‍वामी ने कहा, “पूरे राज्य ने कर्नाटक बंद के आह्वान पर पूरेे प्रदेश में लोगों का व्‍यापक समर्थन मिल है। राज्य के हितों की बात आने पर सभी को एकजुट होना चाहिए। उन्होंने तमिलनाडु का नाम लिए बिना कहा, राज्य की अखंडता और एकता पड़ोसी राज्यों के लिए खतरे की घंटी होनी चाहिए।” पूर्व मुख्‍यमंत्री ने कहा, “कन्नड़ लोगों की भावनाओं को कुचला नहीं जाना चाहिए।” “हम जद (एस) की ओर से बंद को पूरा समर्थन देते हैं। वर्तमान परिस्थितियों में कावेरी के लिए आंदोलन अपरिहार्य हो गया है। कर्नाटक में सरकार तुष्टीकरण की राजनीति कर रही है। कावेरी मुद्दे पर राजनीति नहीं की जानी चाहिए। तमिलनाडु में अच्छी बारिश हो रही है और बारिश की भविष्यवाणी भी सकारात्मक है. फिर भी झगड़ा पानी के लिए हो रहा है। कुमारस्वामी ने कहा, कर्नाटक में राज्य सरकार लोगों के लिए कोई स्टैंड नहीं ले रही है। आंदोलनकारियों ने कावेरी मुद्दे पर राज्य के पक्ष में नहीं बोलने के लिए कर्नाटक के २८ सांसदों के पुतले जलाए।

Scroll to Top