189 Views

ग्रीनबेल्ट विवाद- ओंटारियो एमपीपी खलीद रशीद ने फोर्ड कैबिनेट से दिया इस्तीफा

ब्रैम्प्टन, २१ सितंबरः ग्रीनबेल्ट मामले की जांच के बाद ओंटारियो एमपीपी खलीद रशीद ने फोर्ड कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है। इससे पहले हाउसिंग मिनिस्टर स्टीव क्लार्क इस महीने की शुरुआत में लैंड स्वैप(ज़मीन की अदला-बदली) प्रकरण को लेकर इस्तीफे दे चुके हैं।
मिसिसॉगा ईस्ट-कुक्सविले एमपीपी खलीद रशीद ने ओंटारियो प्रांत के ग्रीनबेल्ट लैंड स्वैप मामले में इंटिग्रिटी कमिश्नर की जांच के बाद फोर्ड मंत्रिमंडल और ओंटारियो प्रोग्रेसिव कंजर्वेटिव कॉकस से इस्तीफा देने का ऐलान किया। रशीद अपना पद छोड़ने को इसलिए मजबूर हुए हैं क्योंकि उनकी लॉस वेगास की यात्रा की टाइमलाइन पर सवाल उठ रहे थे।
रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने आंटारियो की संरक्षित ग्रीनबेल्ट भूमि के कुछ क्षेत्र को हाउसिंग डिवेलपमेंट के लिए इस्तेमाल करने का विवादित निर्णय लिया। वहीं इंटिग्रिटी कमिश्नर ने पूर्व एमपीपी रशीद से उनकी लॉस वेगास ट्रिप को लेकर पूछताछ की। आरोप है कि रशीद फोर्ड के प्रमुख सचिव अमीन मसूदी व डिवेलपर शाकिर रहमतुल्लाह के साथ वहां दिखे थे।
ओंटारियो के इंटिग्रिटी कमिश्नर के अनुसार रहमतुल्लाह की कंपनी के नाम वह जमीन है, जो नवंबर २०२२ में हाउसिंग डिवेलपमेंट के लिए संरक्षित ग्रीनबेल्ट से निकाली गयी थी। रहमतुल्लाह मारखम, ओंट-बेस्डस्ड फ्लैटो डिवेलपमेंट्सट्स कंपनी के संस्थापक और अध्यक्ष हैं। जिन्होंने तीन बार ग्रीनबेल्ट से जमीन को बाहर निकालने का अनुरोध किया, जिसे मान लिया गया था।
जांच के दौरान रहमतुल्लाह ने स्वीकार किया कि वह दिसंबर २०१९ से जनवरी २०२० के आखिर और फरवरी की शुरुआत में लॉस वेगास में मौजूद था। ट्रिप के दौरान उसने खलीद रशीद को होटल की लॉबी में देखा था। वहीं रशीद ने बताया रहमतुल्लाह और वे अच्छे दोस्त हैं, जबकि रशीद की पत्नी डिवेलपर रहमुल्लाह की कंपनी में काम करती हैं।
गौरतलब है कि रशीद का इस्तीफा हाउसिंग मिनिस्टर स्टीव क्लार्क के इस्तीफे के बाद आया है। स्टीव पर ग्रीनबेल्ट विवाद में शामिल होने के आरोप लगे थे। जिसके चलते उन्हें कई हफ्तों तक विरोध का सामना करना पड़ा था।

Scroll to Top