132 Views

कंबोडिया में सात साल में जीका संक्रमण का पहला मामला सामने आया

नोम पेन्ह,२७ सितंबर । कंबोडिया में २०१६ के बाद जीका वायरस संक्रमण का पहला मामला सामने आया है। देश के स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति में यह जानकारी दी।
मध्य कम्पोंग थॉम प्रांत में एक सात साल की लड़की में संक्रमण की पुष्टि हुई है। उसे पिछले सप्ताह सोमवार को डेंगू जैसे लक्षणों के साथ बरे सैंटुक रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मंत्रायल के जारी बयान में कहा गया है कि जांच परिणाम से पुष्टि हुई कि वह जीका वायरस से संक्रमित हैं।
जीका एक फ्लेविवायरस है जो मुख्य रूप से एडीज प्रजाति के मच्छरों से फैलता है। इसके अलावा यह यौन संपर्क, रक्त संक्रमण और गर्भवती मां से बच्चे में भी फैलता है। इसमें गर्भ में शिशु की मृत्यु भी हो सकती है।
जीका के लक्षणों में बुखार, सिरदर्द, दाने निकलना, लाल आँखें और जोड़ों का दर्द शामिल हैं। अधिकांश मरीज़ दो से सात दिन में ठीक हो जाते हैं।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों, विशेषकर गर्भवती महिलाओं से सतर्क रहने और खुद को एडीज मच्छरों से बचाने और संक्रमण के लक्षण दिखने पर डॉक्टरों को दिखाने का आह्वान किया।

Scroll to Top