50 Views

जी २० में अफ़्रीकी यूनियन की सदस्यता को चीन का समर्थन, शिखर सम्मलेन के दौरान लग सकती है मुहर

नई दिल्ली,०८ सितंबर। चीन ने बृहस्पतिवार को जी२० में अफ्रीकी यूनियन की सदस्यता को समर्थन की घोषणा की। चीनी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि चीन ऐसा करने वाला पहला देश है। गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने अफ्रीकन यूनियन को आगामी शिखर सम्मेलन में ब्लॉक की पूर्ण स्थायी सदस्यता प्रदान करने के लिए जी-२० देशों के नेताओं को पत्र लिखा था। इस बीच, जर्मनी ने एयू की सदस्यता का समर्थन किया है।
अफ्रीकी देशों के महासंघ अफ्रीकन यूनियन को दुनिया के सबसे अमीर और सबसे ताकतवर देशों के समूह जी-२० में शामिल किया जाना लगभग तय हो चुका है। ९-१० सितंबर को नई दिल्ली में जी-२० शिखर सम्मेलन के दौरान इस पर मुहर लग सकती है।
अफ्रीका यूनियन (एयू) को जी-२० की सदस्यता की संभावना बढ़ने की खबरों के बीच संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने इस पर खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि यह बहुत अच्छा होगा, क्योंकि अभी अपनी आवाज उठाने के लिए अंतरराष्ट्रीय मंचों पर उसकी भागीदारी बहुत सीमित है।
५५ देशों के महासंघ एयू के शामिल होने से जी-२० दुनिया की ८०% आबादी की आवाज बन जाएगा।

Scroll to Top