52 Views

बड़े रिकॉर्ड तोडऩा मायने रखता है : शुभमन गिल

नई दिल्ली ,०८ दिसंबर। भारत के युवा सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल ने कहा कि वह स्थायी सफलता के क्षितिज पर अपनी नजरें गड़ाए हुए हैं और बिना किसी विशिष्ट व्यक्तिगत उपलब्धि को ध्यान में रखे लगातार प्रमुख रिकॉर्डों को पार करने का लक्ष्य बना रहे हैं।
क्रिकेट के प्रतिभाशाली खिलाड़ी गिल इस साल की शुरुआत में हैदराबाद में न्यूजीलैंड के खिलाफ १४९ गेंदों में २०८ रन बनाकर वनडे दोहरा शतक बनाने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बन गए थे। साथ ही वो सबसे तेज़ १००० वनडे रन बनाने वाले भारतीय भी बन गए। एक पुरस्कार समारोह में बोलते हुए २४ वर्षीय सलामी बल्लेबाज ने कहा कि सबसे कम उम्र में २०० का स्कोर बनाना एक बड़ी उपलब्धि है लेकिन वह दीर्घकालिक सफलता पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।
गिल ने कहा, २०० का स्कोर हासिल करने वाले सबसे कम उम्र के होने का गौरव प्राप्त करना वास्तव में एक उपलब्धि है। लेकिन, मेरा प्राथमिक ध्यान दीर्घकालिक सफलता पर है। लगातार महत्वपूर्ण रिकॉर्ड को पार करना मेरे लिए मायने रखता है। फिलहाल कोई व्यक्तिगत रिकॉर्ड मेरे दिमाग में नहीं है।
गिल ने अपने प्रेरणास्रोत सचिन तेंदुलकर की प्रशंसा करते हुए कहा, सचिन तेंदुलकर सर्वकालिक महान हैं और मैंने उनकी वजह से क्रिकेट खेलना शुरू किया। शीर्ष क्रम के बल्लेबाज ने भारत के विश्व कप २०२३ अभियान पर भी विचार किया और कहा, यह हम सभी के लिए दिल तोडऩे वाला था। हालांकि, खिलाड़ी के रूप में भविष्य की चुनौतियों के लिए तत्पर रहना हमें आगे बढ़ाता है। इसलिए आगे बढऩा हमारी यात्रा का एक अनिवार्य पहलू है।
गिल, जिन्हें आखिरी बार अहमदाबाद में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वनडे विश्व कप २०२३ के फाइनल के दौरान एक्शन में देखा गया था। दक्षिण अफ्रीका में आगामी मैचों के लिए तैयारी कर रहे हैं। वह आने वाले दिनों में तीन मैचों की टी२० सीरीज में शामिल होने और दो टेस्ट मैचों में भाग लेने के लिए तैयार हैं।

Scroll to Top