शीतकालीन सत्र के पहले दिन बोले PM, हम तैयार, लेकिन चर्चा हो तो सही

नई दिल्ली। संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर चिर-परिचित अंदाज में विपक्ष से सहयोग और सदन चलाने की अपील की। 5 राज्यों के विधानसभा नतीजों के दिन पीएम काफी सहज अंदाज में नजर आए और उन्होंने कहा कि मई में होने वाले रणयुद्ध से पहले सभी दलों को सदन में दलगत राजनीति से ऊपर उठकर जनता के मुद्दों को उठाना चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘हम तो चाहते हैं कि सदन में चर्चा हो, हर मुद्दे पर चर्चा हो, तेज-तर्रार चर्चा हो। हम चाहते हैं कि संवाद-विवाद और विमर्श हो, यह लोकतंत्र की परंपरा है। हमारी हर कोशिश है कि सदन चले, चर्चा कम से कम हो तो सही…। मैं सभी दलों के सदस्यों से अनुरोध करता हूं कि सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए हम तैयार हैं और सदन चलाने में सहयोग करें। मैं उम्मीद करता हूं कि इस सत्र में सदन निर्धारित समय से अधिक समय तक चले।’
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘मई में हम सभी को एक बार फिर संग्राम में उतरना है। यह सत्र बहुत अधिक महत्वपूर्ण है। जनता से जुड़े कई महत्वपूर्ण मुद्दों को सदन में उठाया जाए। मुझे पूरा यकीन है कि सभी सम्मानित सदस्य इस भावना को समझेंगे। हम बार-बार कह रहे हैं कि हम हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार हैं।’ 2019 विधानसभा चुनाव नतीजों से पहले सभी दलों के लिए विंटर सेशन काफी अहम है। सरकार जहां अपनी उपलब्धियों को जोर-शोर से गिनाने की कोशिश करेगी, वहीं कांग्रेस और अन्य विपक्षी दल जमकर हमला बोलने के लिए तैयार हैं। राफेल डील, महिला आरक्षण बिल जैसे कई मुद्दों पर सरकार को घेरने की पूरी तैयारी कांग्रेस ने कर ली है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top