डेरेन गंगा ने बताया, क्यों संकट से गुजर रहा है विंडीज क्रिकेट

नई दिल्ली वेस्ट इंडीज क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और कप्तान डैरेन गंगा ने विंडीज क्रिकेट की खस्ता हालात के पीछे की वजह जाहिर की है। कभी दुनिया की सबसे ताकतवर टीम कही जाने वाली टीम पिछले कुछ साल में टीम की हालत खराब होती गई है। टीम अपेक्षाओं पर खरा नहीं उतर पा रही है। भारत के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मैच में राजकोट में उसे पारी और 272 रनों से हार का सामना करना पड़ा था। भारत की जीत के बाद विंडीज के पूर्व कप्तान ने टीम की खराब हालत के पीछे की वजह पर चर्चा की। उन्होंने अंग्रेजी अखबार से चर्चा में कहा, ‘जब मैंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 1998 में अपना पहला टेस्ट मैच खेला तो टीम में ऐम्ब्रोस, वॉल्श, लारा और हूपर जैसे खिलाड़ी थे। हमारे पास ऐसे खिलाड़ी मौजूद थे जिन पर गर्व किया जा सके। अब युवा टीम में ऐसा कोई खिलाड़ी मौजूद नहीं। टीम में ऐसा कोई नहीं जिसने कुछ बड़ा हासिल किया हो।’

उन्होंने कहा कि मौजूदा खिलाड़ियों के पास कोई रोल मॉडल नहीं है। उन्होंने कहा, ‘ऐसे माहौल में परिपक्व होना बहुत मुश्किल है जहां आप जीत न रहे हों। इस तरह की गिरावट 1990 के दशक से चली आ रही है। शाई होप मदद के लिए किसे देखें? शैनन ग्रैबियल जब हताश महसूस कर रहे हों तो वह किससे मदद मांगें, जबकि उनके साथी तेज गेंदबाजों ने सिर्फ दो टेस्ट मैच खेले हों। यह तो वही बात हुई कि एक नेत्रहीन व्यक्ति दूसरे नेत्रहीन व्यक्ति को रास्ता दिखा रहा है।’ भारत के खिलाफ पहले टेस्ट में हार के बाद सीरीज में बराबरी के लिए वेस्ट इंडीज को काफी मेहनत करनी होगी। सीरीज का दूसरा मैच 12 अक्टूबर से राजकोट में खेला जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top