87 Views

अमेरिका-चीन के बीच रूस से हथियार खरीद पर बढ़ा तनाव, चीन ने रद्द किया सैन्य अभ्यास

पेइचिंग अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर को लेकर दूरियां लगातार बढ़ती जा रही हैं। एक-दूसरे के उत्पादों पर प्रतिबंध के बाद चीन ने अमेरिकी राजदूत को पिछले सप्ताह तलब किया था। अब चीन ने अमेरिका के साथ होनेवाले सैन्य अभ्यास को भी रद्द कर दिया है। चीन के विदेश मंत्रालय की तरफ से बयान जारी कर यह जानकारी दी गई। चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘चीन के नेवी चीफ शिन जिनलांग को अमेरिका दौरे से वापस बुलाया जा रहा है। अगले हफ्ते चीन और अमेरिका के बीच होनेवाले वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों की बातचीत को भी फिलहाल रद्द किया जा रहा है।’ बयान में यह भी कहा गया कि चीन की सेना के पास यह अधिकार है कि वह बिना अधिक जानकारी साझा किए आगे ऐसे और कदम उठा सकती है।

सैन्य मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘रूस के साथ फाइटर जेट और मिसाइल सिस्टम खरीदने का चीन का फैसला एक सामान्य फैसला है। दो संप्रभु राष्ट्रों के बीच होनेवाले इस फैसले पर आपत्ति का कोई कारण नहीं है। अमेरिका को इस फैसले को प्रभावित करने का अधिकार नहीं है।’ ट्रेड वॉर को लेकर दोनों महाशक्तियों के बीच तनातनी लगातार बढ़ती जा रही है। बता दें कि अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा था कि रूस के मुख्य हथियार आयातक के साथ महत्वपूर्ण लेन-देन के कारण वह चीनी सेना के उपकरण विकास विभाग और उसके निदेशक ली शांगफू पर तुरंत पाबंदी लगाएगा। अमेरिका ने यह प्रतिबंध रूस के 2017 में 10 Su-35 एयरक्राफ्ट और 2018 में S-400 मिसाइल सिस्टम खरीदने को लेकर लगाया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top