राजा चारी, अब करेंगे अंतरिक्ष में उड़ने की तैयारी

October 10, 2021

वाशिंगटन,10 अक्टूबर। जल्दी ही एक और भारतीय मूल के अंतरिक्ष यात्री अंतरिक्ष में नासा के स्पेस सेंटर की यात्रा करेंगे। नासा का स्पेस एक्स क्रू-3 मिशन दुनिया भर के कई अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष स्टेशन तक ले जाएगा। इसमें एक नाम भारतीय अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री राजा चारी का भी है, जो इस मिशन की अगुआई करेंगे।
स्पेस एक्स क्रू-3 मिशन 30 अक्तूबर को इन अंतरिक्ष यात्रियों को नासा के स्पेस सेंटर ले जाएगा। क्रू-3 स्पेस एक्स की अंतरिक्ष में पांचवीं और अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए चौथी चालक दल की उड़ान है। भारतीय-अमेरिकी राजा चारी क्रू ड्रैगन अंतरिक्ष यान और क्रू-3 मिशन के कमांडर के रूप में काम करेंगे। वह स्टेशन पर एक्सपेडिशन 66 फ्लाइट इंजीनियर के रूप में भी काम करेंगे।
राजा चारी ने सन 1999 में यूएस एयरफोर्स एकेडमी से ग्रेजुएशन किया था। यहां से ऐस्ट्रोनॉटिकल इंजीनिरिंग की डिग्री लेकर मास्टर्स डिग्री के लिए वह एमआईटी गए। यहां से एयरोनॉटिक्स एंड एस्ट्रोनॉटिक्स की पढ़ाई पूरी की। चारी अमेरिका में ही पले बढ़े हैं । उनके पिता कई वर्ष पहले अमेरिका जाकर बस गए थे।
राजा चारी को इससे पहले भी नासा ने काम करने का मौका दिया है। नासा की ओर से आर्टेमिस प्रोग्राम के तहत दुनिया भर से 18 अंतरिक्ष यात्रियों को चुना गाया था, जिसमें राजा चारी भी शामिल थे। साल 2017 में एस्ट्रानॉट कैंडिडेट क्लास के लिए राजा चारी को नासा ने चुना था। इससे पहले वह 461वें फ्लाइट टेस्ट स्क्वाड्रन के कमांडर थे। राजा चारी F-35 इंटीग्रेटेड फोर्स के डायरेक्टर भी रह चुके हैं। इस मिशन पर जाने को लेकर वह काफी उत्साहित हैं।