पत्रकार मारिया रेसा और दिमित्री मुरातोव को मिला नोबेल शांति पुरस्कार

October 8, 2021

टोरंटो, 8 अक्टूबर। नोबेल शांति पुरस्कार को विश्व में दिए जाने वाले पुरस्कारों के मध्य बेहद सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। प्रत्येक वर्ष यह पुरस्कार विश्व में शांति और सद्भाव को बढ़ाने के लिए अप्रतिम योगदान हेतु दिया जाता है। इस साल यह प्रतिष्ठित पुरस्कार फिलीपींस की पत्रकार मारिया रेसा और रूस के दिमित्री मुरातोव को दिया जाएगा। दोनों को यह पुरस्कार अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की रक्षा में उनके प्रयासों के लिए दिया जा रहा है।
दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार की घोषणा करते हुए, नॉर्वेजियन नोबेल समिति की अध्यक्ष बेरिट रीस-एंडरसन ने कहा कि रेसा और मुरातोव को “अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की रक्षा के उनके प्रयासों के लिए सम्मानित किया गया, जो लोकतंत्र और स्थायी शांति के लिए एक पूर्व शर्त है”। नोबेल चयन कमेटी ने शुक्रवार को नार्वे के ओस्लो में हुई बैठक में इस बारे में घोषणा की गई।
यह पुरस्कार प्रतिवर्ष उस संगठन या व्यक्ति को दिया जाता है, जिसने विश्व में भाइचारे और बंधुत्व को बढ़ाने के लिए सर्वश्रेष्ठ काम किया हो। पिछले वर्ष यह पुरस्कार विश्व खाद्य कार्यक्रम को दिया गया था। रोम से काम करने वाली संयुक्त राष्ट्र की इस एजेंसी को वैश्विक स्तर पर भूख से लड़ने और खाद्य सुरक्षा के प्रयासों के लिए यह पुरस्कार दिया गया था। इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के तहत एक स्वर्ण पदक और एक करोड़ स्वीडिश क्रोनर (11.4 लाख डॉलर से अधिक राशि) दिये जाते हैं।