फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति निकोलस सरकोजी को सजा

October 1, 2021

पेरिस,1 अक्टूबर। फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति निकोलस सरकोजी को स्थानीय अदालत ने भ्रष्टाचार के मामले में दोषी ठहराते हुए एक साल कैद की सजा सुनाई है। सरकोजी को कोर्ट ने साल 2012 के चुनाव में गैरकानूनी फंडिंग के लिए दोषी ठहराया है। 66 वर्षीय सरकोजी 2007 से 2012 तक फ्रांस के राष्ट्रपति रहे। कोर्ट ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति के खिलाफ गंभीर तथ्य हैं, जिसमें उन्होंने निजी हित के लिए अपने पद का दुरुपयोग किया। कोर्ट ने कहा कि सरकोजी ने साल 2012 में चुनावी हार के बाद पद का दुरपयोग करते हुए धन का अवैध लेन-देन किया। दरअसल, 2012 में चुनाव लड़ने के लिए उन पर गैरकानूनी फंडिंग का आरोप सिद्ध हुआ है। कोर्ट ने मामले में उन्हें एक साल की सजा सुनाई है। इससे पहले इसी साल की शुरुआत में सरकोजी को भ्रष्टाचार और अपने पद का दुरपयोग करने के आरोप में तीन साल जेल की सजा सुनाई गई थी। हालांकि, इसमें से दो साल की सजा को निलंबित कर दिया गया था। कोर्ट ने तब कहा था कि सरकोजी घर पर हिरासत में रहने का अनुरोध कर सकते हैं लेकिन इस परिस्थिति में उन्हें इलेक्ट्रॉनिक पट्टी पहननी होगी। पुराने मामले में अभियोजन पक्ष ने कोर्ट में साबित किया था कि सरकोजी ने जज को एक नौकरी की पेशकश की थी। इसके बदले में उनके खिलाफ चल रही जांच की गुप्त जानकारी मांगी थी। सरकोजी पर 2007 के चुनावी कैंपेन के लिए धन के लेन-देन का आरोप था।