बांग्लादेश ने ऑस्कर में भेजी इरफान की फिल्म

September 26, 2018

मुम्बई बॉलिवुड के साथ ही अंतरराष्ट्रीय सिनेमा में अपनी ऐक्टिंग से पहचान बनाने वाले ऐक्टर इरफान की फिल्म ‘डूब : नो बेड ऑफ रोज़ेज’ कभी बांग्लादेश में बैन की गई थी, लेकिन अब वही फिल्म अब 2019 के ऑस्कर अवॉर्ड्स के लिए बांग्लादेश की ऑफिशल एंट्री है। बांग्लादेश ऑस्कर कमिटी ने इस फिल्म को बेस्ट फॉरेन लेंग्वेज फिल्म कैटिगरी के लिए भेजा। मोस्तफा सरवर फारुखी द्वारा लिखी और निर्देशित फिल्म ‘डूब : नो बेड ऑफ रोज़ेज’ में इरफान खान के अलावा रुकैया प्राची, नुसरत इमरोज, तृषा और पर्णों मित्ता भी हैं। इस फिल्म के निर्देशक फारुकी का कहना है कि अभिनेता इरफान के बिना यह फिल्म बनना संभव नहीं होता। उन्होंने कहा, ‘मैं खुश हूं कि ‘डूब : नो बेड ऑफ रोजेज’ ऑस्कर में बांग्लादेश का प्रतिनिधित्व कर रही है। मुझे उम्मीद है कि फिल्म को अकैडमी के वोटर्स का कुछ प्यार मिलेगा।’ इरफान इस फिल्म के सह-निर्माता भी हैं। इरफान की तरफ से आए बयान में कहा गया, ‘जूरी द्वारा मान्यता मिलना एक सम्मान है और लंबे समय बाद फिल्म को वह पहचान मिल रही है, जो इसे मिलनी चाहिए थी।’ इस फिल्म में इरफान ने एक सफल फिल्म निर्माता की भूमिका निभाई है, जो जीवन के उस दौर में है जब वह अपना अकेलेपन दूर करने के लिए बेटी की सहेली से रिश्ता बना लेता है, जिससे पूरे देश में हंगामा मच जाता है। फिल्म को बांग्लादेश में इसलिए बैन किया गया था क्योंकि इसकी कहानी लेखक-फिल्मकार अहमद की जिंदगी से मिलती जुलती थी जिन्होंने 27 साल बाद पत्नी को तलाक दे दिया था और 33 साल जूनियर ऐक्ट्रेस से शादी कर ली थी। अक्टूबर 2017 में फिल्म पर लगी पाबंदी खत्म हो गई और इसे फ्रांस, बांग्लादेश, भारत और ऑस्ट्रेलिया में रिलीज किया गया।