प्लास्टिक इस्तेमाल करते देखा तो बीच बाजार कराई उठक-बैठक

October 4, 2018

नवी मुंबई करजत नगर पालिका परिषद के चीफ ऑफिसर रामदास कोकरे ने गांधीगिरी का अनोखा तरीके पेश करते हुए गांधी जयंती पर दो लोगों को भरे बाजार उठक-बैठक करने पर मजबूर कर दिया। इन लोगों की गलती यह थी कि वे प्लास्टिक बैग्स का इस्तेमाल कर रहे थे। रायगड़ जिले के करजत में बाजार पेठ की भीड़ वाली सड़क पर दी गई यह सजा कैमरे में कैद हो गई और देखते ही देखते वायरल होने लगी। दरअसल, अपनी गाड़ी से उतरते हए कोकरे और उनके साथियों ने दोनों व्यक्तियों को देखा। उन्होंने प्लास्टिक के इस्तेमाल पर जुर्माना भरने के लिए कहा लेकिन दोनों ने असमर्थता जताई। तब कोकर ने उठक-बैठक करने के लिए कहा। हालांकि, इसे उनमें से एक व्यक्ति संतोष पिंगले ने अपना अपमान माना और करजत पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज कराई। बताया गया है कि बाजार से लौटकर पिंगले ने खुद को दो घंटे के लिए अपने कमरे में बंद कर लिया था। उन्होंने कहा कि कोकरे ने पहले उनसे 10 उठक-बैठक कराए और फिर कहा कि उन्होंने देखा नहीं। एक बार 15 उठक-बैठक कराए। उन्होंने इसे अपनी बेइज्जती बताया। हालांकि, कोकरे का कहना है कि उन्होंने दोनों पर दबाव नहीं डाला था। इस बारे में करजत पुलिस इंस्पेक्टर सुजाता तनावड़े ने कहा कि कोई भी धारा यहां लागू नहीं होती।