देशद्रोह के मामले में नवाज शरीफ, अब्बासी अदालत के समक्ष पेश

October 8, 2018

लाहौर देशद्रोह के मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और शाहिद खाकान अब्बासी सहित एक पत्रकार सोमवार को लाहौर उच्च न्यायालय के समक्ष पेश हुए। डॉन न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, सुनवाई शुरू होने के बाद अदालत ने पत्रकार और डॉन के सहायक संपादक सिरिल अल्मीडा का नाम नो-फ्लाई सूची से हटाने और उनके खिलाफ जारी वॉरंट वापस लिए जाने का आदेश दिया। अदालत ने शरीफ, अब्बासी और अल्मीडा की उपस्थिति पर ध्यान दिया और सभी को अदालत में लिखित उत्तर जमा करने का आदेश दिया। अदालत परिसर के आसपास सुरक्षा को बढ़ा दिया गया। रेंजर्स और पुलिस अधिकारियों का एक दल अदालत के बाहर तैनात है और अदालत के प्रवेश और निकास बिंदुओं पर अधिक सतर्कता बरती गई। एवनफील्ड संपत्ति मामले में शरीफ को हाल ही में जमानत मिली थी लेकिन वह अपनी पत्नी कुलसुम नवाज के निधन की वजह से आखिरी सुनवाई में पेश नहीं हो सके थे। सिविल सोसाइटी की सदस्य अमीना मलिक ने 11 मई को शरीफ द्वारा डॉन को दिए गए साक्षात्कार के आधार पर याचिका दायर की थी। याचिका के अनुसार, पूर्व नेता ने सीमा पार आतंकवाद और इसे खत्म करने की आवश्यकता के बारे में बात की थी। साक्षात्कार के प्रकाशन के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद ने मामले पर विचार-विमर्श करने के लिए एक बैठक आयोजित की थी। मामले की अगली सुनवाई 22 अक्टूबर को होगी।