दिल्ली के मुंडका में मिली युवती की आधी लाश

October 18, 2018

नई दिल्ली। नवरात्र में जहां पूरे देश में देवी की पूजा हो रही है और कन्याओं व महिलाओं के सम्मान की बात कही जा रही है, वहीं आउटर दिल्ली के मुंडकाइलाके में खेत से एक लड़की का क्षत-विक्षत शव बरामद किया गया है। लड़की की हत्या इतनी बेरहमी से की गई है कि उसके पेट से ऊपर का हिस्सा काट कर अलग करने के बाद कहीं दूसरी जगह फेंका गया, जबकि निचला हिस्सा खेत में मिला है। पुलिस अभी तक मृतका की शिनाख्त नहीं कर पाई है। लड़की के साथ दुष्कर्म की भी आशंका जताई जा रही है, हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं है। राजधानी में हुई इस शर्मनाक व दर्दनाक घटना पर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने न केवल चिंता व्यक्त की है बल्कि नारी सुरक्षा को लेकर दिल्ली की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं।

स्वाति मालिवाल ने आज सुबह इस सनसनीखेज वारदात को लेकर अपने ट्विटर हैंडल से एक के बाद एक ट्वीट करते हुए लिखा कि दिल्ली रेप कैपिटल है। लड़की का रेप कर दरिंदों ने मार दिया और लाश का सिर्फ एक टुकड़ा मुंडका इंडस्ट्रियल मेट्रो से 500 मीटर दूरी पर खेत में मिला। शरीर का बाकी हिस्सा अब तक नही मिला। शव मिलने की यह सूचना डीसीडब्ल्यू की महिला पंचायत की सदस्यों को कुछ कूड़ा बिनने वालों से मिली थी, जिसके बाद उन्होंने दिल्ली पुलिस को इससे अवगत करवाया। दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था ध्वस्त है!

स्वाति ने लिखा, अब तक पुलिस शिनाख्त नही कर पाई है कि लड़की कौन है, कातिलों को पकड़ना तो दूर की बात है। पुलिस केंद्र सरकार के अंतर्गत है और मैं केंद्र सरकार से बोल-बोलकर थक गई हूं कि पुलिस के संसाधन और जवाबदेही बढ़ाए, पर कोई जवाब नहीं आता। कितनी बेटियां बलि चढ़ेंगी, तब केंद्र जागेगा? नवरात्रों के पावन दिन में भी दिल्ली में बच्चियों के रेप रुके नही। एक तरफ हम माता को पूजते हैं, दूसरी तरफ उनकी ही बेटियों को तार-तार करते हैं। शर्म आती है इस समाज और सिस्टम पे। घिन आती है केंद्र की चुप्पी पर जो अगले रेप का इंतज़ार करती है। नेताओं के हाथ जोड़े, कोर्ट गई और 10 दिन अनशन किया। देश मे बच्चों के रेपिस्ट को 6 महीने में फांसी सज़ा देने का प्रावधान तो हो गया, लेकिन क्या फर्क पड़ा? जब तक केंद्र पुलिस संसाधन, जवाबदेही और कोर्ट नही बढाएगा, तब तक क्या होगा?

वहीं इस मामले में आउटर डिस्ट्रिक्ट के डीसीपी सेजू पी कुरूविला का कहना है कि लड़की की पहचान करने का प्रयास किया जा रहा है। पुलिस की टीमें न केवल आउटर डिस्ट्रिक्ट बल्कि द्वारका और वेस्ट डिस्ट्रिक्ट के इलाकों में भी जाकर शिनाख्त करने का प्रयास कर रही है। इसके अलावा हरियाणा के इलाकों में भी जाकर जांच की जा रही है। अभी तक यह पुख्ता नहीं हुआ है कि लड़की के साथ दुष्कर्म किया गया है या नहीं, इसका पता पोस्टमॉर्टम के बाद ही चलेगा। दिल्ली पुलिस सभी से अपील करती है कि जो कोई भी इस लड़की की शिनाख्त करने में मदद कर सकता है, वह पुलिस से संपर्क करे, उसकी पहचान पूरी तरह से गुप्त रखी जाएगी।