करतारपुर कॉरिडोर खोलने के लिए भारत से नहीं हुई है बात पाक विदेश मंत्रालय

September 19, 2018

इस्लामाबाद। सिखों के लिए महत्वपूर्णकरतारपुर कॉरिडोर खोलने को लेकर असमंजस की स्थिति बरकरार है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि कॉरिडोर खोलने के लिए भारत की तरफ से अब तक कोई औपचारिक बातचीत नहीं हुई है। पाक सरकार ने यह भी कहा है कि इस मामले पर पाकिस्तान का स्टैंड सकारात्मक है और हम बातचीत के लिए तैयार हैं।
पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की तरफ से कहा गया, ‘करतारपुर कॉरिडोर खोलने के लिए भारत की तरफ से कोई औपचारिक चर्चा नहीं हुई है। पाकिस्तान इस मुद्दे पर सकारात्मक है और हम आगे भी इस पर बातचीत के लिए विकल्प खुले ही रखनेवाले हैं।’ बता दें कि पूर्व क्रिकेटर और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तान यात्रा के बाद कहा था कि उन्हें पाक सरकार और आर्मी चीफ ने कॉरिडोर खोलने का आश्वासन दिया है। बता दें कि इमरान खान के शपथ ग्रहण में जाने को लेकर चौतरफा आलोचना झेल रहे सिद्धू ने कहा था कि पाकिस्तान ने गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व पर करतारपुर साहिब कॉरिडोर को खोलने की इच्छा जताई है। करतारपुर कॉरिडोर सिखों के लिए सबसे पवित्र जगह है। करतारपुर साहिब सिखों के प्रथम गुरु, गुरु नानक देव जी का निवास स्थान था और यहीं पर वे ज्योति जोत समाए थे। बाद में उनकी याद में ही यहां पर गुरुद्वारा भी बनाया गया। करतारपुर साहिब, पाकिस्तान के नारोवाल जिले में है जो पंजाब मे आता है। यह जगह लाहौर से 120 किलोमीटर दूर है और इंडिया बॉर्डर से महज 4 किमी दूर।