एशिया कप में पाकिस्तान के साथ खेल सकते हैं तो द्विपक्षीय सीरीज क्यों नहीं : गौतम

September 19, 2018

नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैच का दोनों देशों के क्रिकेट फैंस को बेसब्री से इंतजार रहता है। बुधवार का दिन दोनों देशों के क्रिकेट फैंस के लिए बड़ा दिन है। दोनों टीमें चैंपियंस ट्रॉफी के बाद पहली बार आमने-सामने होने जा रही है। बेशक यह मैच रोमांचक होने वाला है। भारत और पाकिस्तान के बीच संबंधों में आई खटास के बाद दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट नहीं हुए हैं। दोनों टीमें सिर्फ ग्लोबल टूर्मामेंट में आमने-सामने होती हैं। जैसे विश्व कप, एशिया कप, चैंपियंस ट्रॉफी में दोनों टीमों एक साथ मैदान में उतरने का मौका मिलता है। दोनों टीमों के बीच अंतिम बार आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल भिड़ंत हुई थी। यह मैच टीम इंडिया पाकिस्तान से 180 रनों से हार गई थी। क्रिकेट विशेषज्ञों ने बार-बार कह चुके हैं कि क्रिकेट को राजनीति से अलग रखा जाना चाहिए। बहुत कम बोलने वाले क्रिकेटरों में शामिल गौतम गंभीर ने कहा कि भारत-पाक मैचों पर सशर्त प्रतिबंध नहीं लगाया जाना चाहिए। टीमें द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेलती हैं लेकिन ग्लोबल टूर्नामेंट और एशिया कप में एक-दूसरे के विरुद्ध खेलती है।
गंभीर ने कहा, अगर आप किसी को खेलने से रोकते हो तो आप उन्हें क्रिकेट के प्रत्येक फॉर्म खेलने से रोकना चाहिए। चाहे वह एशिया कप हो या आईसीसी टूर्नामेंट। खेल में आप पर सशर्त प्रतिबंध नहीं हो सकता। आप नहीं कह सकते कि हम द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेल सकते लेकिन हम आईसीसी कार्यक्रमों और एशिया कप के बारे में कुछ नहीं कर सकते हैं। अगर आप एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ खेलना चाहते हैं तो आप द्विपक्षीय सीरीज क्यों नहीं खेलते हैं? अगर आप द्विपक्षीय सीरीज में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलना चाहते हैं तो आपको एशिया कप और आईसीसी टूर्नामेंटों में भी नहीं खेलना चाहिए। एशिया कप में हांगकांग को हराकर पाकिस्तान आत्मविश्वास काफी बढ़ हुआ है। पाकिस्तान ने हांगकांग को आठ विकेट से हराकर अपने अभियान की शुरुआत की। विराट कोहली के स्थान पर टीम की अगुवाई कर रहे रोहित शर्मा ने इस टूर्नामेंट में हांगकांग को हराकर पहला मैच जीत लिया है। भारतीय टीम में भी जबरदस्त उत्साह और आत्मविश्वास है। पूर्व भारतीय बल्लेबाज संजय मांजरेकर का मानना है कि भारत वर्तमान एशिया कप में एक दावेदार है लेकिन उन्होंने पाकिस्तान को खिताब का प्रबल दावेदार करार किया क्योंकि वह संयुक्त अरब अमीरात में लगातार खेलता रहा है।